आज भारतीय किसान ने एसडीएम पांवटा साहब से मुलाकात करके उनकी गेहूं की फसल की 10 अप्रैल से खरीद शुरू करने और 25 मार्च से रजिस्ट्रेशन पोर्टल को चालू करवाने बारे आग्रह किया गया जिस बारे एसडीएम साहब द्वारा होला मोहल्ला की समाप्ति के बाद इस मसले पर जरूरी कदम उठाने का भरोसा दिया गया। इस बार दो की जगह तीन खरीद केंद्र रखने का प्रावधान किया जा रहा। इसके साथ ही यूनियन द्वारा राष्ट्रपति को एक ज्ञापन एसडीएम पांवटा साहब के द्वारा भेजा गया जिसमे सरकार द्वारा दिल्ली से धरना समाप्त करने हेतु जो वायदे किसानों से किए गए थे उनको शीघ्र पूरा करने बारे ध्यान दिलाया गया है। सरकार ने अभी तक ना एमएसपी को लेकर कोई कमेटी का गठन किया है ना ही लखीमपुर खेरी हत्याकांड को लेकर अपने मंत्री अजय मिश्र टेनी पर कोई कार्यवाही की है और ना ही किसानों पर दर्ज मुकदमे ज्यादातर जगह वापिस हुए। विगत 31 जनवरी को पूरे देश में इस बारे किसान संगठनों ने विश्वासघात दिवस मनाया था और आगामी 7 अप्रैल से एमएसपी गारंटी सप्ताह मनाया जायेगा।
अगर सरकार का यही रुख रहा तो किसानों के पास दोबारा आंदोलन और धरने के इलावा कोई और रास्ता नहीं बचेगा। अनिंदर सिंह नॉटी अध्यक्ष बीकेयू हिमाचल संयोजक एसकेएम
साथ में गुरजीत सिंह नंबरदार जसविंदर बिलिंग (ब्लॉक अध्यक्ष)
भूपिंदर सिंह, प्रदीप सिंह, नरेंद्र सिंह, राणा सहोटा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here