मौके पर पहुंच कर भारी बारिश से हुए नुकसान की जांच करें अधिकारी -विनय कुमार

 
नाहन में जिला कल्याण समिति की प्रथम बैठक आयोजित
नाहन, 24 जुलाई। विधायक श्री रेणुका जी विनय कुमार ने कहा कि हिमाचल प्रदेश सहित सिरमौर जिला में भारी बारिश के कारण करोड़ों रुपये की सार्वजनिक और निजी संपत्तियों का भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार तथा जिला प्रशासन द्वारा नियमानुसार प्रभावित परिवारों को राहत प्रदान करने के साथ उनका पुनर्वास भी किया जा रहा है। उन्होंने प्रशासन और सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को भारी बारिश से हुए नुकसान की जांच मौके पर पहुंच कर करने के लिए कहा ताकि नुकसान का सही आकलन करवाया जा सके।  उन्होंने कहा कि नुकसान के सही आकलन के उपरांत ही प्रदेश सरकार प्रभावितों को राहत और मुआवजा दे सकती है।
जिला कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं विधायक श्री रेणुका जी विनय कुमार सोमवार को नाहन में जिला कल्याण समिति की प्रथम बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि कल्याण विभाग सीधे रूप से गरीब और जरूरतमंद लोगों के साथ जुड़ा है और विभाग सामाजिक सुरक्षा पैंशन सहित गृह निर्माण व अन्य कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समय पर जरूरतमंदों तक पहुंचाना सुनिश्चित बनाये। उन्होंने कहा कि आज की बैठक में जिन जरूरी विषयों पर सर्वसम्मति से जनहित में निर्णय लिया गया है उनकी समयबद्ध अनुपालना सुनिश्चित बनाई जाये ताकि जरूरतमंद लोगों को समय पर लाभ मिल सके।
विधायक विनय कुमार ने बताया कि सिरमौर जिला में समाज कल्याण गतिविधियों लिए इस वित्त वर्ष  के लिए 24.24 करोड़ रुपये की धनराशि आवंटित की गई है। उन्होंने कहा कि इस आवंटित राशि से अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग, अल्प संख्यक वर्ग के दिव्यांगों, एकल नारियों, कुष्ठ रोगियों एवं वृद्धजनों तथा अन्य जरूतमंदों का कल्याण सुनिश्चित बनाया जायेगा।
  उन्होंने जानकारी दी है कि सिरमौर जिला में वर्तमान में 55242 पात्र लोगों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा  रही है जिसमें 5981 राजगढ़ तहसील, 5139 पच्छाद, 8163 नाहन, 8675 रेणुका जी, 19787 पांवटा साहिब तथा 7497 लाभार्थी शिलाई तहसील के शामिल हैं। इन पैंशन धारकों में वृद्धावस्था, विधवा, अपंग, कुष्ट, आदि श्रेणियां शामिल हैं। उन्होंने यह भी बताया कि वर्तमान में जिला में 3321 नवीन प्रार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन का लाभ प्रदान किया गया है।
जिला कल्याण समिति के अध्यक्ष ने बताया कि चालू वित्त वर्ष में स्वर्ण जयंती आश्रय योजना के तहत सिरमौर जिला में अनुसूचित जाति, जन जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग व अन्य हेतु करीब 1..61 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई है जिसके तहत अनुसूचित जाति वर्ग के लिए जिला में 94 आवास, अनुसूचित जन जाति के लिए 03, अन्य पिछड़ा वर्ग के 11 आवास बनवाये जाने प्रस्तावित हैं।  
उन्होंने बताया कि जिला में समाज कल्याण विभाग द्वारा इस वित्त वर्ष में अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के पात्र लोगों को अनुदान पर 858 शिलाई मशीनें प्रदान करने के लिए 15.50 लाख रुपये का बजट प्रावधान किया गया है। इसी प्रकार जिला में अन्तर्जातीय विवाह योजना के तहत 24 दंपतियों को लाभ देने पर 12 लाख रुपये की राशि व्यय की गई हैं। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा दिव्यांग विद्यार्थियों को मासिक दरों पर छात्रवृति प्रदान की जाती है जिसका लाभ उठाने के लिए पात्र लोंगो को कल्याण विभाग के जिला और तहसील स्तर के कार्यालयों में संपर्क करना चाहिए।
विनय कुमार ने कंप्यूटर एप्लीकेशन प्रशिक्षण में विभाग द्वारा अधिकृत प्रशिक्षण केन्द्रों की समय-समय पर जांच व निरीक्षण करने के लिए कहा। उन्हांेंने कहा कि यह गरीब और जरूरतमंद विद्यार्थियों के भविष्य से जुड़ा हुआ मामला है, इसलिए इस बात का ध्यान रखा जाये कि किसी भी कंप्यूटर प्रशिक्षण संस्थान में विद्यार्थियों का भविष्य दांव पर न लगे।
विधायक पावंटा साहिब सुख राम चौधरी, विधायक पच्छाद रीना कश्यप, विधायक नाहन अजय सोलंकी ने अपने-अपने क्षेत्र से सम्बन्धित समाज कल्याण सम्बन्धी विषयों को प्रमुखता से बैठक में उठाया और शीघ्र जरूरतमंदो तक विभाग की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का अग्रह किया।
जिला कल्याण अधिकारी विवेक अरोड़ा ने बैठक का संचालन करते हुए विभाग की विभिन्न गतिविधियों पर प्रकाश डाला।
अतिरिक्त उपायुक्त मनेश कुमार यादव, एसडीएम नाहन रजनेश कुमार, एसडीएम पांवटा गुंजीत सिहं चीमा, एसडीएम पच्छाद डा.संजीव धीमान, परियोजना अधिकारी डीआरडीए अभिषेक मित्तल, अध्यक्ष नगर परिषद नाहन श्यामा पुंडीर, उप निदेशक उच्च शिक्षा कर्म सिंह, डाईट प्रधानाचार्य राजीव ठाकुर, जिला पंचायत अधिकारी विक्रम ठाकुर, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील शर्मा के अलावा स्वास्थ्य, समाज कल्याण, बाल विकास तथा अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।
.0.

One thought on “मौके पर पहुंच कर भारी बारिश से हुए नुकसान की जांच करें अधिकारी -विनय कुमार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *