भीम आर्मी चीफ जीतने से पिछड़ो को राजनीति को मिलेगी नई दिशाः अमित कुमार

अमित कुमार ने 2 रिज़ल्ट आने से दो दिन पहले ही सोशल मीडिया पर एक पोस्टर के ज़रिए नगीना लोक सभा की जानता को जीत की देदी थी बधाई हर कोई जीत की बधाई का पोस्टर देखकर हैरान था आपको बता दें अमित कुमार पाँवटा साहिब से अपनी टिम के साथ नगीना के कई गाँव और नाटोर धामपुर में प्रचार किया है

अमित कुमार काफ़ी बार भीम आर्मी के चीफ चन्द्रशेखर के साथ देखे गये है जब चंद्रशेखर पर हमला हुआ था तब भी अमित कुमार ने उनके साथ एक पोस्ट जारी की थी जिसमें चंद्रासेखर आज़ाद उनका हाथ पकड़े नज़र आ रहे है

दलित, पिछड़े, आदिवासी और अल्पसंख्यकों को मिल जाएगा उनके भविष्य का जुझारू नेता जो उनकी बात अब संसद में उठायेगा

दलित, पिछड़े, आदिवासी और अल्पसंख्यकों को मिल जाएगा उनके भविष्य का जुझारू नेता जो उनकी बात अब संसद में उठायेगा

सोना जितना तपता है उतना प्रखंड निखरता है मिट्टी को जितनी आग लगे वो उतना खूब खनकता है” किसी विख्यात शायर की यह पंक्तियां भीम आर्मी चीफ और आजाद समाज पार्टी काशीराम के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्र शेखर आजाद पर ठीक चरित्रार्थ होती हैं। यह कहना है भीम आर्मी के पूर्व में रहे ज़िला महासचिव व मीडिया प्रभारी अमित कुमार का कहना है भीम आर्मी चीफ और आजाद समाज पार्टी काशीराम के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्र शेखर आजाद नगीना से जीतने से देश की युवा राजनीति को एक नई दिशा मिलेगी। भीम आर्मी के पूर्व ज़िला महासचिंव अमित कुमार ने कहा कि बेरोजगारी आज देश की सबसे बड़ी समस्या बन गई है। सरकार को युवाओं की फिक्र नहीं है और रोजगार नहीं मिलने से देश का युवा त्रस्त है।

ऐसे में भीम आर्मी चीफ और आजाद समाज पार्टी काशीराम के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्र शेखर आजाद नगीना से सांसद चुनकर जाने से युवाओं की दिशा और दशा दोनों ही बदल जाएंगी। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं भीम आर्मी चीफ के जीतने से दबे कुचले लोगो पर अब अत्याचार भी कम होंगे दलित, पिछड़े, आदिवासी और अल्पसंख्यकों को उनका हक़ अब कोई नहीं छीन सकता अमित कुमार का कहना है बीजेपी 400 सिट ला कर संविधान बदलना चाहती थी लेकिन अबकी बार 400 पार वाला नारा बीजेपी को महँगा पड़ गया है 400 तो दूर पूर्ण बहुमत भी नहीं ला सकी इस बार उत्तरप्रदेश में बीजेपी बैकफुट पर है बीजेपी के संविधान को बदलना तो दूर अब संविधान को बदलने की सोच भी नहीं सकती