भाजपा के मंत्री पावरफुल, जेपी नड्डा संभालेंगे सेहत

मोदी कैबिनेट में सहयोगी दलों को मिले हल्के मंत्रालय; अश्विनी वैष्णव को रेल, शिवराज को कृषि, खट्टर को आवास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को मंत्रिपरिषद सहयोगियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया है। पिछली सरकार में भाजपा के पांच प्रमुख मंत्रियों के विभागों को नई सरकार में भी जस का तस रखा गया है।*

अमित शाह गृह मंत्री बने रहेंगे, जबकि वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह रक्षा मंत्री रहेंगे। इसके अलावा पूर्व भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी सडक़ परिवहन मंत्री होंगे। उन्हें अजय टम्टा और हर्ष मल्होत्रा के तौर पर दो राज्य मंत्री भी दिए गए हैं। नितिन गडकरी को यह मंत्रालय दोबारा मिलना अहम है। ऐसा इसलिए क्योंकि चर्चा थी कि टीडीपी और जेडीयू भी इस मंत्रालय पर दावा ठोंक रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ रसायन एवं उर्वरक मंत्री बनाया गया है। मंत्रिमंडल की पूरी लिस्ट पर नजर दौड़ाएं, तो मनोहर लाल खट्टर और अश्विनी वैष्णव जैसे नेताओं का कद बढ़ गया है। दोनों ही नेताओं को न सिर्फ कैबिनेट में शामिल किया गया है, बल्कि कई अहम मंत्रालय सौंपे गए हैं। रेलवे में बड़े बदलाव करने वाले अश्विनी वैष्णव को तो अब सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और आईटी मंत्रालय भी सौंपे गए हैं। वहीं मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान अब कृषि मंत्रालय और ग्रामीण विकास मंत्रालय संभालेंगे। पिछले कार्यकाल में यह जिम्मेदारी मध्य प्रदेश के ही नरेंद्र सिंह तोमर को मिली थी।

भाजपा ने सभी बड़े मंत्रालय अपने पास रखे हैं। वहीं जदयू और टीडीपी समेत अन्य सहयोगी दलों को कुछ खास नहीं दिया गया है। 16 सीटों के साथ एनडीए में शामिल टीडीपी के राम मोहन नायडू को नागरिक उड्डयन मंत्रालय दिया गया है। टीडीपी के चंद्र शेखऱ पेम्मासानी को ग्रामीण विकास और संचार मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। जदयू के ललन सिंह को पंचायती राज मंत्रालय और राम नाथ ठाकुर को कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। आरएलडी के जयंत चौधरी को स्किल डिवेलपमेंट विभाग का राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और शिक्षा मंत्रालय का राज्य मंत्री बनाया गया है। पांच में से पांचों सीट जीतने वाली पार्टी एलजेपी रामविलास के प्रमुख चिराग पासवान को खाद्य और प्रसंस्करण विभाग दिया गया है। यही मंत्रालय उनके पिता रामविलास पासवान के पास भी था।

शिवसेना के जाधव प्रताप राव गणपत राव को भी आयुष और स्वास्थ्य मंत्रालय का राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाया गया है। जीतनराम मांझी की पार्टी ने एक ही सीट जीती है। उन्हें माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज का मंत्री बनाया गया है। जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी को भारी उद्योग और स्टील मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। रामदास आठवले को सामाजिक न्याय विभाग का राज्य मंत्री बनाया गया है। अनुप्रिया पटेल को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में राज्य मंत्री और केमिकल फर्टिलाइजर विभाग की राज्य मंत्री रहेंगी।

कार्यभार संभालते ही किसान सम्मान निधि के 20000 करोड़ की फाइल पास, वेबसाइट डाउन

नई दिल्ली। अपने तीसरे कार्यकाल का धमाकेदार आगाज करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को किसान निधि के 20 हजार करोड़ रुपए जारी कर दिए। इससे देश के 9.3 करोड़ किसानों को फायदा होगा। पीएमओ के अधिकारियों ने बताया कि पीएम मोदी ने कहा है कि आने वाले दिनों में उनकी सरकार किसानों और कृषि क्षेत्र के लिए और काम करेगी। हालांकि किसान सम्मान निधि की फाइल पर साइन होजे ही पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्रैश हो गई। दरअसल, योजना की आधिकारिक वेबसाइट को जब खोला जा रहा था, तो पोर्टल डाउन नजर आ रहा है। हालांकि, सोमवार सुबह तक पोर्टल सही चल रहा था, लेकिन पीएम मोदी के 17वीं किस्त जारी होने वाली फाइल पर साइन करने के बाद वेबसाइट डाउन नजर आ रही है।

मोदी 3.0 की पहली ही कैबिनेट बैठक में पीएम आवास के तहत दिए तीन करोड़ नए घर

नई दिल्ली। मोदी कैबिनेट ने पहली बैठक में गरीबों के लिए तीन करोड़ नए घर बनाने को मंजूरी दी है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गांवों और शहरों में बनने वाले इन घरों में टॉयलेट, बिजली, पानी और गैस कनेक्शन होगा। इस स्कीम के तहत पिछले 10 साल में कुल 4.21 करोड़ घर पहले ही बनाए जा चुके हैं। योजना के तहत घर बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार से आर्थिक मदद दी जाती है। मोदी 3.0 की पहली कैबिनेट बैठक सोमवार 10 जून को पीएम आवास पर हुई। इसमें सभी कैबिनेट मंत्री शामिल हुए।